डाउन सिंड्रोम

डाउन सिंड्रोम
80

डाउन सिंड्रोम एक अनुवांशिक विकार है जिससे बच्चे का शारीरिक और मानसिक विकास प्रभावित होता है।

तो आइए जानते हैं क्या मतलब है डाउन सिंड्रोम का और यह कैसे होता है।

डाउन सिंड्रोम

मनुष्य के अंदर 23 जोड़ी गुणसूत्र पाए जाते हैं जिसमें से बच्चे को 23 गुण माता से और 23 गुण पिता से प्राप्त होते हैं। यदि बच्चे के अंदर  कुल 46 गुण होते हैं। जो 23 जोड़ी गुणसूत्र के रूप में पाए जाते हैं।

डाउन सिंड्रोम
लेकिन डाउन सिंड्रोम से प्रभावित बच्चे के अंदर 21वें जोड़े गुणसूत्र में  एक गुण अधिक होता है।
मतलब डाउन सिंड्रोम का मतलब है कि बच्चे के अंदर 40 की जगह 47 गुण होते हैं।
डाउन सिंड्रोम रोग को ट्राईसोमी 21 के नाम से भी जाना जाता है।

इस रोग से प्रभावित बच्चे का शारीरिक और बौद्धिक विकास देरी से होता है और चेहरा भी  गोल ना होकर प्लेट हो जाता है।
नेशनल डाउन सिंड्रोम सोसाइटी द्वारा किए गए शोध के अनुसार अमेरिका में प्रत्येक 700 बच्चों में से एक को डाउन सिंड्रोम की बीमारी पाई जाती है।
अमेरिका में अनुवांशिक रोगों में डाउन सिंड्रोम सबसे अधिक होता है।

डाउन सिंड्रोम के भी कई प्रकार हैं

ट्रायसोमी

इसमें बच्चे की प्रत्येक कोशिका  के गुणसूत्रों में 21वें जोड़े गुणसूत्र की एक अतिरिक्त कॉपी पाई जाती है।
यह डाउन सिंड्रोम का सबसे सरल रूप है।

ट्रांसलोकेशन

किस प्रकार के डाउन सिंड्रोम में 21वें जोड़े गुणसूत्र का केवल कुछ हिस्सा ही बच्चे के अंदर पाया जाता है।

मोजैक डाउन सिंड्रोम

यह भी एक विशेष प्रकार का डाउन सिंड्रोम है जिसमें शरीर के अंदर कोशिकाओं के दो या दो से अधिक भिन्न-भिन्न अनुवांशिक रूप पाए जाते हैं।
पूरे विश्व में 21 मार्च को डाउन सिंड्रोम दिवस मनाया जाता है इसकी शुरुआत 2012 से संयुक्त राष्ट्र संघ ने की थी।

Read this article in English

Leave a Reply