मानव शरीर 10 अद्भुत तथ्य

human body facts
83

मानव सृष्टि की एक अद्भुत संरचना है। मानव शरीर कैसे बनता है?  मानव शरीर के अंदर बहुत ही अद्भुत रहस्य छुपे हुए हैं। तो आइए जानते हैं मानव के शरीर के बारे में 10 अद्भुत तथ्य के बारे में।

मानव शरीर 10 अद्भुत तथ्य

1.मनुष्य के सभी अंगों में लगभग 21 साल तक हि वृद्धि होती है। 21 साल के बाद मनुष्य के शरीर के अंग वृद्धि करना बंद कर देते हैं। लेकिन हमारे नाक और कान जिंदगी भर  वृद्धि करते हैं।

2.यदि मनुष्य के शरीर  की सभी नसों को निकाल लिया जाए और उनसे एक लंबी तार बना दी जाए। इसकी लंबाई पृथ्वी की परिधि से लगभग ढाई गुना होगी। यानी इस तार से पृथ्वी को ढाई बार लपेटा जा सकता है।

3.मनुष्य के शरीर में हाइड्रोक्लोरिक अम्ल बनता है। यह  मानव शरीर में अमाशय के अंदर बनता है। इसका मुख्य कार्य भोजन के साथ आए कीटाणुओं को नष्ट करना है। यह अम्ल इतना प्रबल होता है कि इससे धातुओं को भी   पिघलाया जा सकता है।

4.पुरुषों की तुलना में महिलाओं का दिल तेजी से धड़कता है। एक  पुरुष का दिल 1 मिनट में औसतन 70 बार और एक महिला का दिल 1 मिनट में 74 बार धड़कता है।  इसका कारण यह है कि महिलाओं के दिल का आकार पुरुषों के दिल से छोटा होता है।

human body facts

5.मानव शरीर की सबसे बड़ी कोशिका महिलाओं की जनन कोशिका अंडाणु होती है वही सबसे छोटी कोशिका की बात करें तो पुरुषों की जनन कोशिका शुक्राणु सबसे छोटी कोशिका होती है।

6.मनुष्य के मुंह में लार बनती है इसका मुख्य कारण भोजन की कार्बोहाइड्रेट को पचाना है। मानव के शरीर में  1 दिन में लगभग 3 लीटर लार बनती है। और अगर पूरे जीवन काल की बात करें तो मनुष्य इतनी लार बना देता है कि इससे दो स्विमिंग पूलो को आसानी से भरा जा सकता है।

7.मनुष्य की आंखों का कलर एक विशेष प्रकार के वर्णक मेलानिन की वजह से होता है। जिस मनुष्य की आंख में मेलानिन की मात्रा जितनी अधिक होती है उसकी आंखों का रंग उतना गहरा होता है। लेकिन सभी बच्चों की आंखों का रंग जन्म के समय नीला होता है क्योंकि उनकी आंखों में मेलानिन को बनने में समय लगता है।

8.मानव का यकृत एक ऐसा अंग है जिसमें पुनर्जन्म की विशेषता पाई जाती है। इसका मतलब यह है कि यदि किसी व्यक्ति के यकृत को काट दिया जाए तो यह दोबारा विकसित हो जाएगा ठीक वैसे ही जैसे छिपकली की  पूंछ कटने पर दोबारा आ जाती है। मनुष्य  यकृत में ही ग्लूकोस ग्लाइकोजन के रूप में भंडारित रहता है जिससे हमें कार्य करने के लिए दिनभर ऊर्जा मिलती है।

9.जैसे-जैसे मनुष्य की उम्र बढ़ती है तो उसे  वस्तुएं कम स्वादिष्ट लगनी शुरू हो जाती है। ऐसा इसलिए होता है कि जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है मनुष्य के अंदर स्वाद कालिकाएं की संख्या कम हो जाती है। यह स्वाद कालिकाएं हमारी जीभ में पाई जाती है और इनसे ही हमें स्वाद का पता चलता है। 60 की उम्र तक आते-आते स्वाद कालिकाएं की संख्या आधी रह जाती हैं।

10.मनुष्य की जीभ काफी सॉफ्ट होती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मानव के जीभ हमारे शरीर की सबसे मजबूत मांसपेशी है।  जीभ के ठीक नीचे हमारा जबड़ा होता है। और जबड़े की हड्डी मानव के चेहरे की सबसे मजबूत हड्डी होती है।

हड्डियों की पूर्ण जानकारी के लिए विडियो देखे

Leave a Reply