शुतुरमुर्ग रोचक तथ्य

facts of ostrich
80

शुतुरमुर्ग रोचक तथ्य: हम सभी जानते हैं कि शुतुरमुर्ग दुनिया का सबसे बड़ा पक्षी है। यह पक्षी मुख्य रूप से  अफ्रीका के वुडलैंड्स और सवाना क्षेत्रों मैं पाया जाता है।आएये जानते हैं इस पक्षी के बारे में कुछ बेहद ही रोचक तथ्य।

शुतुरमुर्ग रोचक तथ्य

शुतुरमुर्ग का वजन लगभग 350 पाउंड और इसकी ऊंचाई 9 से 10  फुट तक हो सकती है। शुतुरमुर्ग 40 से 70 साल तक जीवित रह सकते हैं।

क्या शुतुरमुर्ग उड़ सकता है?
शुतुरमुर्ग के पंख होते हैं जिन्हें यह 2 मीटर तक फैला सकता है। लेकिन शुतुरमुर्ग उड़ नहीं सकता। यह अपने पंखों का इस्तेमाल  संतुलन बनाने और अपने बच्चों को धूप से बचाने के लिए करता है।

शुतुरमुर्ग के अंडे का आकार: शुतुरमुर्ग का अंडा 15 से 20 सेंटीमीटर लंबा होता है और इसका वजन लगभग 2.5 से 3 किलो के करीब हो सकता है। यह अंडा इतना मजबूत होता है कि आम इंसान इसके ऊपर खड़ा हो जाए तब यह टूटता नहीं है।

शुतुरमुर्ग के अंडे के परत की मोटाई लगभग 2 मिलीमीटर होती है और इस अंडे को उबालने में लगभग एक से डेढ़ घंटे का समय लगता है।

पक्षियों में सबसे बड़ी आंख भी  शुतुरमुर्ग ही होती  है। शुतुरमुर्ग की आंख मनुष्य की आंख से 5 गुना बड़ी होती है

शुतुरमुर्ग की आंख का वजन उसके दिमाग से अधिक होता है। इस के दिमाग का वजन लगभग 40 ग्राम जबकि आंख का वजन लगभग 60 ग्राम होता है।

शुतुरमुर्ग

बड़ी आंखें होने के कारण शुतुरमुर्ग के देखने की क्षमता काफी बढ़िया होती है । शुतुरमुर्ग 3 किलोमीटर तक आसानी से देख सकते हैं

शुतुरमुर्ग क्या खाता है?  शुतुरमुर्ग मुख्य रूप से पौधे उनकी जड़ें और उनके बीजों का सेवन करता है इसके अलावा यह कीट, छिपकली आदि भी खा लेते है। शुतुरमुर्ग बहुत कम पानी पीता है क्योंकि यह है पेड़ पौधों से जल ग्रहण कर लेता है, जिनका यह सेवन करता है।
शुतुरमुर्ग के तीन पेट होते हैं और  इसकी आंत की लंबाई काफी ज्यादा होती है।

शुतुरमुर्ग कंकर पत्थर भी आसानी से पचा सकता है यह एक बार में एक से डेढ़ किलो  कंकर खा सकता है।

शुतुरमुर्ग सबसे तेज दौड़ने वाला पक्षी है इसकी औसत चाल 45 से 60 मील प्रति घंटा होती।

शुतुरमुर्ग नर है या मादा है इसकी पहचान उसके पंखों से की जा सकती है। मादा शुतुरमुर्ग के पंख स्लेटी भूरे रंग के होते हैं जबकि नर शुतुरमुर्ग के पंख काले रंग के होते हैं।

शुतुरमुर्ग के समूह में एक अल्फा नर और एक अल्फा मादा शुतुरमुर्ग होते हैं। ये दोनों समूह की  संख्या बढ़ाने के लिए आपस में संभोग करते हैं। मादा शुतुरमुर्ग साल में लगभग 50 से 100 अंडे दे सकती है।

एक समूह की सभी मादाओं के अंडे देने के लिए एक सामूहिक घोंसला होता है जिसे हम डंप नेस्ट कहते हैं। इस घोसले में एक बार में लगभग 60 अंडे आ सकते हैं।

19वीं सदी के अंत में अमेरिका के फ्लोरिडा शहर में शुतुरमुर्ग की दौड़ की जाती थी। वर्तमान में भी कैंटरबरी पार्क में एक बार एक एक्सट्रीम रेस डे मनाया जाता है। जिसमें अन्य जानवरों के साथ शुतुरमुर्ग की दौड़ भी करवाई जाती है।

Leave a Reply