10 सबसे घातक ज़हर जो कुछ ही सेकंड में जान ले सकते है

सबसे घातक ज़हर
78

क्या आप जानते हैं दुनिया का सबसे घातक जहर कौन सा है?
यदि नहीं तो आज हम आपको बताने वाले हैं दुनिया के 10 सबसे खतरनाक जहर जो कुछ ही सेकंड में व्यक्ति की जान ले सकते हैं।
दुनिया के 10 सबसे घातक जहर के बारे में जानने से पहले हमें यह जानना होगा कि जहर हमारे शरीर पर कैसे असर करता है।
जहर ऐसा पदार्थ है जो रासायनिक अभिक्रिया द्वारा श्लेष्मा झिल्ली हमारी त्वचा, उत्तक  या हमारे रक्त परिसंचरण तंत्र द्वारा अवशोषित  कर लिया जाता है।अवशोषण के बाद यह हमारे स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालता है। जिसमें मुख्य रूप से सांस लेने में तकलीफ, रक्त का थक्का बनना, दिल का कार्य ना करना इत्यादि शामिल है। जहर हमारे शरीर पर कितना बुरा प्रभाव डालता है यह शहर की प्रकार और मात्रा पर निर्भर करता है।

तो आइए अब बात करते हैं दुनिया के 10 सबसे घातक जहर के बारे में।

 

10 सबसे घातक ज़हर जो कुछ ही सेकंड में जान ले सकते है

10. पोलोनियम

पोलोनियम 210 बहुत ही घातक जहर है। इसकी खोज मैडम क्यूरी ने 1898 में की थी। यह इतना खतरनाक पदार्थ है कि इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है मात्र 1 ग्राम पोलोनियम हजारों व्यक्तियों की जान लेने के लिए काफी है। जैसे ही यह पदार्थ मानव शरीर में प्रवेश करता है यह हमारे डीएनए और इम्यूनिटी सिस्टम को तबाह कर देता है। जिसके कारण कुछ ही समय में व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है। यही कारण है कि हमने पोलोनियम को 10 सबसे जहरीले पदार्थों की सूची में शामिल किया है।

9.Strychnine

यह जहर प्रकृति में पाया जाता है। इसे Strychnos nux vomica  नामक वृक्ष के बीजों से प्राप्त किया जाता है। यह एक प्रकार का न्यूरोटोक्सीन है जो रीड की हड्डी तक जाने वाली नसों को प्रभावित करता है। व्यापारिक स्तर पर इसका प्रयोग चूहों व अन्य कीटों को मारने के लिए किया जाता है। इसकी थोड़ी मात्रा भी हमारे लिए हानिकारक हो सकती है इसलिए इसे बच्चे और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

8.Brodifacoum

यह पदार्थ हमारे शरीर में प्रवेश करके विटामिन k के स्तर को कम कर देता है। जैसा कि हम जानते हैं कि विटामिन k रक्त का थक्का जमाने के लिए आवश्यक है। यदि शरीर में विटामिन के की कमी हो जाए तो रक्त का थक्का नहीं बन पाएगा।  जिसके कारण कुछ ही समय में खून का पानी बन जाता है और व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है।

7. सायनाइड

यह जहर मुख्यतः सेब,बादाम ,चेरी आदि के बीजों में पाया जाता है। यह हाइड्रोजन के साथ मिलकर हाइड्रोजन सायनाइड बनाता है।  जिसको रासायनिक हथियारों के रूप में प्रयोग किया जाता है। यह हमारे शरीर में प्रवेश करके हीमोग्लोबिन को ऑक्सीजन ले जाने से रोकता है जिससे शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है और व्यक्ति सांस नहीं ले पाता। अगर यह  थोड़ी मात्रा में हमारे शरीर में जाए तो हमारा लीवर इसे डीटॉक्सिफाई कर देता है। लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन घातक है।

6.नर्व गैस

यह गैस हाइड्रोजन सायनाइड की तुलना में लगभग 500 गुना अधिक जहरीली होती है। यह मुख्य रूप से हमारे तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करती है। तंत्रिका तंत्र के काम ना करने पर हमारा  मस्तिष्क हमारे शरीर के अंगों को नियंत्रित नहीं कर पाता।  यह त्वचा के माध्यम से अवशोषित होती है इसलिए इसका प्रयोग युद्ध में रासायनिक हथियार के रूप में किया जाता है। इससे भी कुछ ही  समय में व्यक्ति की मृत्यु हो सकती है।

5.Amantoxin

यह मुख्य रूप से मशरूम में पाया जाता है। बहुत सारे मशरूम ऐसे होते हैं जिनमें यह जहर पाया जाता है यदि मनुष्य उनका सेवन कर ले तो व्यक्ति की आसानी से मृत्यु हो जाएगी। इस जहर का प्रभाव मुख्य रूप से  हमारी किडनी या यकृत पर पड़ता है।

4.  बटरचोटॉक्सिन

यह जहर  मेंढको और पक्षियों कि कुछ गिनी चुनी प्रजातियों में ही पाया जाता है। यह सबसे अधिक गोल्डन  पाइजन डॉट फ्रॉग में पाया जाता है। यह रूप से इन मेंढको की त्वचा पर पाया जाता है। यह इतना खतरनाक होता है किएक मेंढक से प्राप्त किए जाने वाले  जहर से 10 व्यक्तियों की मृत्यु हो सकती है।

3.  टेट्राटॉक्सिन

यह भी एक खतरनाक जहर है जो मुख्य रूप से मछलियों के जिगर और अंडाशय में पाया जाता है। यह सबसे अधिक पफर मछली से प्राप्त किया जाता है।  इसे अपना असर दिखाने में लगभग 6 घंटे का समय लगता है।

यह हमारे शरीर में जाके मांसपेशियों को निष्क्रिय कर देता है इसके बाद मनुष्य को सांस लेने में दिक्कत होती है और धीरे-धीरे वह मृत्यु की ओर बढ़ता है। इसीलिए हमने इसे 10 सबसे खतरनाक जहरो की सूची में शामिल किया है।

2. बोटॉक्स

यह एक जीवाणु जिसका नाम क्लॉस्ट्रीडियम बोटूलिनम में पाया जाता है। यह बैक्टीरिया बोटूलिनम नामक एक बहुत ही घातक न्यूरोटोक्सीन का निर्माण करता है। यदि यह बैक्टीरिया हमारे शरीर में प्रवेश कर ले तो हम इस जहर से प्रभावित हो जाएंगे।सबसे घातक ज़हर

यह बैक्टीरिया मुख्य रूप से  खराब मांस में पाया जाता है। इसकी  बहुत कम मात्रा भी  मनुष्य में लकवा पैदा कर सकती है। और यदि इसकी मात्रा हमारे शरीर में अधिक हो जाए तो आसानी से व्यक्ति की मृत्यु हो सकती है।

1. रिकिन

रिकिन दुनिया का 10 सबसे घातक ज़हर माना जाता है। यह अरंडी के बीज से प्राप्त किया जाता है। यह हमारे शरीर में प्रवेश करके राइबोसोम को निष्क्रिय कर देता है जिसके कारण राइबोसोम प्रोटीन नहीं बना पाता। धीरे व्यक्ति की कोशिकाएं नष्ट हो जाती है और अंत में व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है।   और सबसे गंभीर बात यह है कि इस जहर का अभी तक कोई एंटीडोट नहीं बन  पाया है।

watch video

https://www.youtube.com/watch?v=3j5HFGK5HVQ

Leave a Reply